August 10, 2022
Uncategorized

मनरेगा कर्मचारी भी सचिवों के साथ,क्या बनेगी बात
सरकार की खामोशी से आंदोलन को चिंगारी

Spread the love

जिया न्यूज़:-दिनेश/चन्दन-दंतेवड़ा

दंतेवाड़ा -प्रदेश भर से जारी पंचायतकर्मियों का काम और कलम बंद प्रदर्शन जारी है ।प्रारंभ में हड़ताल में केवल सचिव ही थे लेकिन धीरे से रोजगार सहायक, और अब मनरेगा के तमाम कर्मचारी इस आंदोलन में जुड़ते गए और कारवां बनता गया ।इस आंदोलन में सीपीआई और विरोधी दलों के सरपंच भी समर्थन में है ।

मजदूरों के पलायन का मुद्दा को भाजपा नेता नंदलाल मुड़ामी ने जमकर उठाया ।नए-नए तरकीब से सरकार को प्रभावित करने के तरीके भी काफी रोचक थे । सरकार की ओर से पंचायत मंत्री से प्रांतीय स्तर पर चर्चा असफल हो चुकी है ।अब सारा दारोमदार प्रदेश के मुखिया भूपेश बघेल पर जा टिका है ।टी.एस. सिंहदेव ने भी इन कर्मियों से चर्चा की थी ।अपने साफगोई के लिए माने जाने वाले “बाबा”ने कर्मियों को स्थिति की सही जानकारी जरूर दे दी ।

अब ये हड़ताली अपना सारा ध्यान मुखिया पर ही लगा रहे है ।संघ के जिलाध्यक्ष पीलूराम डेगल ने प्रखर समाचार को बताया कि 21जनवरी को बूढा तालाब में कर्मी भूख हड़ताल पर बैठेंगे ।इसके बाद 25 जनवरी को जंगी रैली का आयोजन किया जाएगा।26 जनवरी को भी प्रदर्शन जारी रहेगा ।बहरहाल, सरकार की देरी से आंदोलन का स्वरूप अधिक बढ़ता दिख रहा है ।सरकार को इस आंदोलन का सुखद अंत करने के विषय में तत्काल निर्णय लेना चाहिए, अन्यथा सरकार के लिए संकेत तो अच्छे नहीं है ।

Related posts

मेकाज में दिया गया जीरम घाटी शहीदों को श्रद्धांजलि
2 मिनट का मौन धारण कर किया याद, किया गया याद

jia

दंतेवाड़ा में महिलाएं अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन कर आगे बढ़ रहे-आदिति सोनी

jia

मनरेगा में मजदूरी का नगद भुगतान नही होने से ग्रामीणों को करना पड़ रहा तेलंगाना पलायन

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!