September 23, 2021
Uncategorized

उत्तर बस्तर माओवादी संगठन के सदस्य नक्सल दम्पती अर्जुन ताती एवं लक्ष्मी पद्दा संगठन छोड़कर पुलिस के सम्पर्क में आये।

Spread the love

जिया न्यूज़:-जगदलपुर,

जिला कांकेर के परतापुर एरिया कमेटी अंतर्गत मंेढ़की एलओएस सदस्य के रूप में पहचान किया गया नक्सली पति-पत्नी अर्जुन ताती एवं लक्ष्मी पद्दा बिगड़ते स्वास्थ्य के कारण संगठन छोड़कर आ गये।

जांच में कोरोना पॉजिटिव पाये जाने पर कांकेर कोविड अस्पताल में भर्ती करवाया गया।

दोनो माओवादी सदस्य के स्वास्थ्य ठीक होने के उपरांत पूछताछ कर आत्मसमर्पण के संबंध में विधिवत अग्रिम कार्यवाही की जावेगी।

जिला कांकेर के कामतेड़ा बीएसएफ कैम्प (थाना कोयलीबेड़ा) में 1 महिला एवं 1 पुरूष पुलिस से सम्पर्क कर अपना परिचय अर्जुन ताती पिता मोडिंग ताती उम्र 28 वर्ष साकिन तोड़का थाना गंगालूर जिला बीजापुर तथा लक्ष्मी पद्दा पिता खरिया पद्दा पति अर्जुन ताती उम्र 22 वर्ष साकिन आलदण्ड थाना छोटेबेठिया जिला उत्तर बस्तर कांकेर निवासी जो माओवादी संगठन के परतापुर एरिया कमेटी अंतर्गत मेंढ़की एलओएस के सदस्य होना एवं स्वास्थ्य खराब होने के कारण संगठन छोड़कर आये। उक्त दोनो माओवादी सदस्यों को तत्काल कांकेर अस्पताल लाकर जांच करवाई गई, जो दोनो सदस्य कोरोना पॉजिटिव पाये जाने से कांकेर कोविड अस्पताल में ईलाज हेतु भर्ती किया गया है।
पुलिस अधीक्षक, कांकेर एम.आर. आहिरे द्वारा बताया गया माओवादी दम्पती अर्जुन ताती एवं लक्ष्मी पद्दा को ईलाज के पश्चात स्वास्थ्य ठीक होने के उपरांत पूछताछ कर आत्मसमर्पण संबंधित विधि अनुसार अग्रिम कार्यवाही की जावेगी।
पुलिस महानिरीक्षक, बस्तर रेंज सुन्दरराज पी. द्वारा माओवादी दम्पती अर्जुन ताती एवं लक्ष्मी पद्दा के द्वारा तबियत खराब होने से स्वास्थ्य लाभ प्राप्त करने हेतु प्रतिबंधित गैर कानूनी सीपीआई माओवादी संगठन छोड़कर पुलिस से सम्पर्क करने के निर्णय का स्वागत किया।
कलेक्टर कांकेर चंदन कुमार द्वारा कोरोना संक्रमित माओवादी दम्पती को बेहतर उपचार हेतु कोविड अस्पताल प्रबंधन को आवश्यक दिशा निर्देश दिया गया।
उप पुलिस महानिरीक्षक, कांकेर रेंज विनीत खन्ना द्वारा अन्य स्थानीय मााओवादी कैडर को भी बाहरी माओवादी कैडर के चंगुल से मुक्त होकर शासन के समक्ष आत्मसमर्पण करने हेतु अपील की गई।

Related posts

नक्सलियो की राजधानी में आजादी के 73 वर्ष बाद पहुची बिजली बुदरी के आँखों से छलक पड़े खुशी के आंसू,,,
कलेक्टर टोपेस्वर वर्मा ने खुद फावड़ा उठा कर किया मजदूरों के साथ काम। मूलभूत सुविधाएं पहुचाने का उठाया बीड़ा।
नक्सली विरोध के बाद भी जनता प्रशासन का दे रही साथ।

jia

दक्षिण बस्तर पत्रकार संघ इकाई दंतेवाड़ा द्वारा मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन कलेक्टर को डाक पेटी के माध्यम से सौपा, पत्रकारो को भी कोरोना वॉरियर्स घोषित कर उन्हें जोखिम सुरक्षा प्रदान की मांग की

jia

दो बाइक की टक्कर में एक युवक की हुई मौत
मंगनी घर से लौटने के बाद आज सुबह घर जाने के दौरान हुआ हादसा

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!