June 13, 2021
Uncategorized

खनिज विभाग की उदासीनता से, जिले में खनिज माफियाओं का बेखोफ राज-मुक्तिमोर्चा

Spread the love

जिया न्यूज़:-जगदलपुर,

मुक्तिमोर्चा की पहल से बकावण्ड ब्लाक के टलनार ग्रामपंचायत की शिकायत पर प्रशासन ने की, रेत माफियाओं पर कार्यवाही।-नवनीत

जिले के कई ब्लाक में, रेत व अन्य खनिजों का अवैध कार्य जोरो पर,शिकायत का अंबार ,संरक्षण किसका बताये विभाग-मुक्तिमोर्चा

खनिजों माफियाओ पर कार्यवाही की मांग लेकर मुक्तिमोर्चा प्रभावित ग्राम पंचायत के साथ, मेरा खनिज-मेरा अधिकार अभियान का करेगा शंखनाद-मुक्तिमोर्चा

जगदलपुर:-बस्तर अधिकार मुक्तिमोर्चा के मुख्य सयोंजक नवनीत चाँद व बस्तर जिला सयोंजक भरत कश्यप ने सयुक्त बयान जारी करते हुए कहा कि ,बस्तर जिले में खनिज विभाग की अपने कर्तव्यों के प्रति उदासीनता भरे रवैया ने ,जिले अवैध रूप से खनिज उत्खनन व्यपार को फलने -फूलने का पर्याप्त अवशर दे दिया है। इस का यह असर है। कि जिले के कई ब्लाकों में पंचायत अधिनियम व खनिज अधनियम के कानूनी प्रवधान का खुला मख़ौल उड़ा कर ,बिना ग्राम पंचायत के अनुमति व लीज के, खनिज माफियाओ के गैंग ने अवैध रेत उत्खन का जाल बेख़ौफ़ स्थापित कर लिया है। जिसका उदाहरण आज जिले के बकावंड ब्लाक में टलनार ग्रामपंचायत के समीप में बसखली नदी में ,बिना खनिज लीज स्वीकृति व पंचयात अनापत्ति प्राप्त किये रेत उत्खन व परिवहन का कार्य किया जाना रहा है।आज बस्तर अधिकार मुक्तिमोर्चा को ग्रामपंचायत द्वारा अवैध रेत उत्खन की शिकायत पर कार्यवाही हेतु मद्त मांगने गुजारिश पर, मुक्तिमोर्चा के बकावंड ब्लाक अध्यक्ष तेन सिंह सेठिया के साथ ग्राम पंचायत सरपंच के नेतृत्व में मौके स्थल में पहुच, रेत माफियाओं को अवैध रेत उत्खन कार्य करते रोकने का प्रयास किया गया ,मुक्तिमोर्चा द्वारा खनिज माफियाओ के कृत्य को सोशल मीडिया के माद्यम से राज्य सरकार ,स्थानीय जनप्रतिनिधियों की जिमेदारियो व खनिज विभाग के कर्तव्यों पर तंज स्वरूप वीडियो प्रस्तुत कर कर्तव्यों के पालन व कार्यवाही नहीं होने सवाल खड़े किए ,ततपश्चात जिला प्रशासन द्वारा मुशतेदी दिखा घटना स्थल पहुच कार्यवाही प्रारम्भ कर, अवैध रेत उत्खन में लगे मशीनों को जप्ती के कार्यवाही को अंजाम दिया है। मुक्तिमोर्चा ने प्रशासन के कार्यवाही की प्रशंसा करते हुए ,यह सवाल पूछा है। कि आखिर क्या कारण है। कि खनिज माफ़ियायो के हौसले अवैध उत्खन कार्य को अंजाम देने हेतु बुलंद है? जिले के खनिज विभाग के पास सैकड़ो शिकायत के बाद भी कार्यवाही में भारी कमी व खानापूर्ति क्यों है?इन खनिज माफियाओ को किसका संरक्षण प्राप्त है? जो वो इतना बेखोफ है? इन ज्वलन्त सवालों के जवाब राज्य सरकार व उनके स्थानीय जनप्रतिनिधियों को जनता के समकक्ष रखना चाहिए।मुक्तिमोर्चा का जिला प्रशासन से अपील है। की बस्तर का खनिज बस्तर के लोगो का है। इस का उपभोग पूरी तरह कानूनी तौर पूरे, बस्तर के लोगो के हितों व विकास के अधिकारो का ख्याल रखते हुए होना चाहिए। इस लिए इन खनिज माफियाओ पर कड़ी कार्यवाही कर, एक संदेश जनता के बीच अपनी विश्वसनीयता की मजबूती का दे,यदि कार्यवाही नही हुई तो बस्तर अधिकार मुक्तिमोर्चा जिले के सभी ब्लाकों के प्रभावित ग्राम पंचायत के साथ मिलकर मेरा खनिज-मेरा अधिकार अभियान का आगाज कर खनिज माफियाओ के खिलाफ कार्यवाही की मांग हेतु चरणबद्ध आंदोलन की शुरवात करेगा।

Related posts

लॉक डाउन लगाना, कोरोना संक्रमण के रोक थाम हेतु कोई विकल्प नहीं मुक्तिमोर्चा मार्च से मई तक कड़े लॉक डाउन के बाद भी संक्रमण की गति ने रफ्तार पकड़ी, तैयारी व योजनाएं जमीनी स्तर पर धारा शाही, जवाबदेही किसकी-मुक्तिमोर्चा

jia

समलूर सोसाइटी भवन जर्जर, मरम्मत की दरकार

jia

Chhttisgarh

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!