November 27, 2022
Uncategorized

रमन धरम छोड़ नए को कमान सौपनें की तैयारी

Spread the love

जिया न्यूज:-रायपुर,

रायपुर:-छत्तीसगढ़ में 15 साल तक सरकार चलाने वाले पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह लगातार कमजोर होते हुए नजर आ रहे हैं। पहले प्रदेश अध्यक्ष और अब नेताप्रतिपक्ष, उनके नजदीकी लोगों को संगठन से हटाया जा रहा है। साफ़ तौर पर कहे तो रमन सिंह गुट का सफाया हो रहा है। यह कोई बड़ी बात नहीं है कि आने वाले चुनाव के बाद उनके करीबी नेताओं को किनारे लगा दिया जाए।
पूर्व प्रदेश अध्यक्ष विष्णु देव साय और नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक उनके करीबी थी, यह बात किसी से छुपी नहीं है। चुनाव हारने से पहले ही रमन सिंह के खिलाफ पार्टी के भीतर खाने में कार्यकर्ताओं का विरोध था। चुनाव हार जाने के बाद यह विरोध खुलकर सामने आने भी लगा। लेकिन पार्टी मौके के इन्तजार में थी और अब मौका आ चूका है।
रमन सिंह के गुट से पहले विष्णु देव साय को प्रदेश अध्यक्ष के पद से हटाया गया। उनकी जगह पर बिलासपुर सांसद अरुण साव को अध्यक्ष की जिम्मेदारी दी गई। अरुण साव किसी भी गुट से नहीं आते है और पार्टी को उम्मीद है कि वह पार्टी में चल रहे गुटबाजी को तुरंत ख़त्म कर आगामी चुनाव जीतने के लिए काम करेंगे।
बुधवार सुबह प्रदेश प्रभारी डी. पुरंदेश्वरी रायपुर पहुंची है। इसके बाद विधायक दल की बैठक कर रही है। पुरंदेश्वरी ने रायपुर एयरपोर्ट में अपने एक बयान में कहा है कि आज विधायक दल की बैठक के बाद नेता प्रतिपक्ष के नाम का ऐलान होगा। बताते चलें कि प्रदेश अध्यक्ष बदलने के बाद से ही नेता प्रतिपक्ष के बदले जाने की बात सामने आई थी। इसमें प्रमुख रूप से नारायण चंदेल का नाम सबसे ऊपर, और अजय चंद्राकर के नाम की भी चर्चा है। लेकिन मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो नारायण चंदेल के नाम पर सहमती के बाद घोषणा की जा सकती है।

Related posts

भानपुरी का पटवारी चढ़ा एसीबी के हत्थे
8 हजार की रिश्वत की कर रहा था मांग

jia

गंगा जल की कसम खाकर सत्ता में आने वाले भूले अपना वादा-अविनाश
भानपुरी व बस्तर के कार्यकताओं में युवा मोर्चा अध्यक्ष ने भरा जोश

jia

गंगालूर थाना क्षेत्र के जंगलों से दो माओवादियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार कई घटनाओं में थे शामिल

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!