June 17, 2021
Uncategorized

पूज्यवर ने दी कर्म के साथ धर्म को रखने की प्रेरणा
दीक्षार्थी मुमुक्षु राहुल का निकाला गया भव्य वरघोड़ा

Spread the love

जिया न्यूज़:-दंतेवाड़ा/गीदम,

गीदम:-आदमी का जीवन एक प्रकार का कलश है। कलश में स्वर्ण मुद्राएं भी भरी जा सकती है तो उसे कोई कीचड़ से भी भर सकता है। यह भरने वाले पर निर्भर है कि वह किस से कलश को भरता है। हमारा यह जीवन दुर्गुणों से भी भरा जा सकता है और सद्गुणों से भी। व्यक्ति अपने जीवन से एक-एक दुर्गुणों को निकालता जाए तो यह जीवन सद्गुण रूपी स्वर्ण मुद्राओं से भर सकता है। उपरोक्त विचार शांतिदूत आचार्य श्री महाश्रमण जी ने नगर के ओसवाल भवन में प्रवचन सभा के दौरान कहे। हर कार्य के साथ धर्म जुड़ जाए उसका बड़ा महत्व होता है।

हमारा यह जीवन कलश सद्गुण रूपी स्वर्ण से भरता रहे यह प्रयास रहे। कार्यक्रम में पूज्यभर के उद्बोधन से पूर्व मुख्यमुनि महावीर कुमार जी ने कहा आचार्य श्री गांव-गांव, नगर-नगर भ्रमण कर सबको अपनी यात्रा से जागृत कर रहे है। सुदीर्घ यात्रा में गीदम आए हैं। सभी का जीवन धर्मयुक्त बनें। मुख्य नियोजिका विश्रुतविभा जी ने कहा कि आचार्यश्री जहां भी जाते हैं वहां सिर्फ तेरापंथी ही नहीं अपितु संपूर्ण जैन समाज आपके पास श्रद्धा से आता है। अन्य भी अनेक वर्गों के लोग आपके पास मार्गदर्शन लेने आते हैं। गीदम वासियों का सौभाग्य है जो ऐसे महान पुण्यशाली गुरु का यहां पदार्पण हुआ है। साध्वीवर्या सम्बुद्धयशा जी ने सभी को गुरुदेव की वाणी सुन जीवन में सदगुणों को आत्मसात करने की प्रेरणा दी। कार्यक्रम में आचार्य श्री के अभिनन्दन मे अनेक वक्ताओं ने अपनी प्रस्तुति दी।

मध्यान्ह में गीदम के दिक्षार्थी मुमुक्षु राहुल का भव्य वरघोड़ा निकाला गया। वीर पिता प्रकाश चन्द्र बुरड़ के घर से शुरू होकर नगर के प्रमुख मार्गो से होते हुये ओसवाल भवन पहुंचा। जैन श्री संघ गीदम के द्वारा उनके वीर पिता प्रकाश चंद बुरड़, वीर माता ममता बुरड़ व परिवार के अन्य लोगों का अभिनंदन किया गया। साथ ही आचार्य प्रवर से मंगलपाठ श्रवण के पश्चात अभिनंदन समारोह का आयोजन हुआ। गौरतलब है कि आचार्य श्री महाश्रमण जी के सान्निध्य में मुमुक्षु राहुल की रायपुर में दिनांक 21 फरवरी 2021 को दीक्षा समारोह का आयोजन होगा। भव्य शोभायात्रा में नगर के सभी समाज के लोगो के साथ-साथ अन्य राज्यों व अन्य जगहों के लोग भी भारी संख्या में उपस्थित रहे और इस आयोजन को सफल बनाया।

जैन श्री संघ गीदम के अध्यक्ष विमल सुराना ने अभिनंदन कार्यक्रम के पश्चात अहिंसा यात्रा को सफल बनाने के लिए जिला प्रशासन, नगर पंचायत प्रशासन व उनके कर्मियों, मीडिया के सभी साथियों, पुलिस विभाग व स्वास्थ्य विभाग के सभी साथियों के साथ साथ जैन समाज एवं गीदम के सभी धर्मप्रेमी बंधुओं का धन्यवाद व अभिनंदन किया कि आप सभी के सहयोग से यह गीदम तक कि अहिंसा यात्रा सफलतापूर्वक संपन्न हुई और आगे भी चलते रहेगी, साथ ही भविष्य में अन्य कार्यक्रमों में भी आपका सहयोग इसी प्रकार सभी को मिलता रहेगा।

Related posts

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का तीसरा बजट गांव, गरीब, किसान और समग्र विकास का बजट है – ज्योति कुमार

jia

Chhttisgarh

jia

Chhttisgarh

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!