September 21, 2021
Uncategorized

शालेय शिक्षक संघ दंतेवाड़ा ने शिक्षकों की ड्यूटी दूसरे विकासखंड में लगाने का किया विरोध साथ ही दिवंगत शिक्षकों के परिवार को अनुकम्पा नियुक्ति प्रदान करने की मांग की।

Spread the love

जिया न्यूज़:-दंतेवाड़ा,

दंतेवाड़ा:-छ ग शालेय शिक्षक संघ दंतेवाड़ा ने जिला कार्यालय दंतेवाड़ा में कोविड 19 की ड्यूटी एवं आपदा प्रबंधन के तहत नोडल अधिकारी एवं विभागीय अधिकारियों से मुलाकात कर शिक्षकों की विभिन्न समस्याओं से अवगत कराया जिसमे शिक्षक साथियों की ड्यूटी अपने विकासखंड( मुख्यालय) से दूसरे विकास खण्डो में 70 से 80 किलोमीटर की दूरी पर डियुटी लगाई गई है जोकि बिल्कुल भी न्याय संगत नही है। कर्मचारी की ड्यूटी उनके मुख्यालय से दूसरे विकास खंडों में 70 से 80 किलोमीटर दूर लगाया जाना वह भी इस महामारी के दौरान जबकि ऐसे में संक्रमण का खतरा ज्यादा है शिक्षकों को इस कार्य में उन्हें मानसिक, शारीरिक एवं आर्थिक क्षति भी हो रही है ।

इन शिक्षकों की ड्यूटी निरस्त करने हेतु पूर्व में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत दंतेवाड़ा से चर्चा की गई थी जिसमें उन्होंने समस्या को समझ कर निराकरण करने की बात कही थी परंतु समस्या का समाधान ना होने के कारण पुनः आज कोविड जिला नोडल अधिकारी एवं अनुविभागीय अधिकारी महोदय से पुनः मुलाकात की गई। उन्होंने समस्या सुनकर निराकरण करने हेतु संघ को आस्वस्थ किया है तथा उहोने इन शिक्षकों की ड्यूटी निरस्त करके, इनके स्थान पर उसी अनुविभाग के शिक्षकों की ड्यूटी लगाने का आश्वासन संगठन को दिया है ।संगठन का कहना है हम शासन प्रशासन के हर कार्य में मदद करने के लिए तत्परता से तैयार है ,परंतु इस महामारी के चलते हमारे शिक्षकों की सुविधाओं का भी ख्याल विभाग द्वारा रखा जाना चाहिए ताकि कर्मचारियों को अपने दायित्यों के निर्वहन में सुविधा हो सके जिससे मानसिक,शारीरिक एवं आर्थिक रूप से तकलीफ न हो। इसी प्रकार से बाढ़ राहत कार्य में भी शिक्षकों की ड्यूटी विकासखंड मुख्यालय से दूसरे विकासखंड में लगाई गई है, जो कि सर्वथा अनुचित है। जब उस विकासखंड में शिक्षक व कर्मचारी उपलब्ध है तो अन्य विकास खंडों से शिक्षकों की ड्यूटी लगाना कहां तक न्यायोचित है। संगठन के विरोध के चलते प्रशासन द्वारा लगाई गई ,इन शिक्षकों की ड्यूट को संशोधित करने हेतु कहा गया है ।

संगठन के द्वारा आज जिला शिक्षा अधिकारी से भेंट करके हमारे दिवंगत शिक्षक साथियों के परिवार के एक सदस्य को अनुकंपा नौकरी प्रदान करने हेतु पत्राचार किया गया । उनसे भेंट के दौरान संगठन द्वारा जिला शिक्षा अधिकारी को बताया गया कि विगत दिनों में हमारे जिले से 18 शिक्षक साथी का देहावसान हुआ है। अतः उनके परिवार के एक सदस्य को यथाशीघ्र अनुकंपा नौकरी मिलनी चाहिए ।विगत दिनों में अनुकंपा नौकरी की नियमों के चलते हमारे साथियों के परिवार को अनुकंपा नौकरी मिलने में दिक्कत हो रही थी । छत्तीसगढ़ शासन द्वारा वर्तमान में अनुकंपा नौकरी की भर्ती प्रक्रिया को 1 वर्ष के लिए10%की बाध्यता को शिथिल किया गया है । जिसके चलते दिवंगत साथियों के परिवार के आश्रितों को ग्रेड 4 के साथ-साथ ग्रेड 3 में भी अनुकंपा नौकरी मिल सकेगी । इसलिए संगठन द्वारा उन से अनुरोध किया है कि इन 18 परिवारों के आश्रितों को यथाशीघ्र अनुकंपा नौकरी प्रदान किया जाए। चर्चा के दौरान जिला शिक्षा अधिकारी महोदय द्वारा हमें आश्वस्त किया गया है कि वे यथा शीघ्र ही इस दिशा में सकारात्मक प्रयास करेंगे । इनकी अनुकंपा नियुक्ति हेतु जो भी कागजात की आवश्यकता है , उन्हें यथाशीघ्र मंगवाकर उन्हें अनुकंपा नौकरी प्रदान किया जाएगा । प्रतिनिधिमंडल में संतोष कुमार मिश्रा, शैलेश कुमार सिंह, कुलदीप प्रकाश सिंह चौहान, कमल कर्मकार, पुरुषोत्तम लाल साहू ,आनंद मुड़ामी,गजलू राम पोडिंयाम ज्ञानेंद्र चतुर्वेदी धनेन्द्र सोनी,भोजराज यादव, कैलाश कश्यप,बीजोराम वेक,आलोक नाग, सहित अन्य शिक्षक साथी उपस्थित थे।

Related posts

मास्क नहीं लगाने वालों से वसूल गया 15 हजार रुपए का जुर्माना

jia

मारुति शोरूम के पास हुआ हादसा युवक की मौत
2 दिन के अंदर 2 हादसे दोनो में हुई मौत

jia

जिया न्यूज़ का असर जरूर, लेकिन नाकाफी । बरसात में सीमेंट पाइप बह जाने का अंदेशा।खराब सड़क निर्माण से ग्रामीण नाराज़ ।

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!