September 22, 2021
Uncategorized

राष्ट्रीय कवि संगम द्वारा करवाई जा रही है श्रीराम काव्यपाठ प्रतियोगिता

Spread the love

जिया न्यूज़:-राजेश जैन-बिजापुर,

बीजापुर:-किसी भी उम्र के प्रतिभागी भाग ले सकते हैं प्रतियोगिता में। राष्ट्रीय कवि संगम संस्था के द्वारा राष्ट्रीय स्तर पर श्री राम काव्य पाठ प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है इस प्रतियोगिता के तहत 3 चरणों में जिला, प्रांत एवं राज्य स्तर पर प्रतियोगिताएं संपन्न की जानी है।इसी उद्देश्य को लेकर जिला स्तरीय प्रतियोगिता संपन्न कराने हेतु राष्ट्रीय कवि संगम बीजापुर जिला इकाई की बैठक मुंशी प्रेमचंद जी की जयंती के अवसर पर संपन्न हुई। इस बैठक में उपस्थित पदाधिकारियों ने विचार विमर्श कर जिला स्तरीय काव्य प्रतियोगिता को सफल बनाने की बात कही। बैठक में सभी को प्रतियोगिता के नियम बताए गए। प्रतियोगिता के नियम के अनुसार काव्यपाठ का विषय वह कविता होगी जिसमें श्री राम की महिमा, उदारता,शक्ति और शील-सौंदर्य का वर्णन हो,किंतु इसमें तुलसीदास रचित रामचरितमानस के किसी भी काव्यांश को शामिल नहीं करना है। इसी प्रकार ऐसी कोई भी कविता जिसमें श्री राम की महिमा की झलक न हो उसे प्रतियोगिता के योग्य नहीं माना जाएगा। यह विराट प्रतियोगिता तीन स्तरों पर जिला स्तर पर, प्रांत स्तर पर और राष्ट्रीय स्तर पर होगी । काव्य पाठ करते समयन्यूनतम 2:30 से अधिकतम 4:00 मिनट निर्धारित किया गया है। इस प्रतियोगिता में बीजापुर जिले में हल्बी, गोंडी, दोरली, तेलगू छत्तीसगढ़ी या हिंदी में प्रस्तुति मान्य होगी। प्रतियोगिता हेतु आयु वर्ग एक ही होगा,आयु का कोई बंधन नहीं होगा। कविता वाचक के लिए भूमिका का समय भी कुल समय का अंग होगा। भूमिका 30 सेकंड से अधिक की नहीं होनी चाहिए । उसमें कविता के रचनाकार का नाम लिया जाना आवश्यक है।कविता बिना किसी पठनीय सामग्री की सहायता के याद करके ही सुनानी होगी। यदि कविता गेय है तो इसमें किसी प्रकार के वाद्य-यंत्र या ताल का सहारा नहीं लिया जा सकता, न ही कान में इयरफोन लगाया जा सकता है ।बीजापुर जिला हेतु नाम पंजीकृत करने की अंतिम तिथि-30 अगस्त 2021निर्धारित की गई है। इस प्रतियोगिता के प्रथम तीन विजेताओं को प्रांत स्तरीय प्रतियोगिता में भेजा जाएगा । जिला स्तरीय प्रतियोगिता 5 सितंबर को संपन्न होगी। प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए व्हाट्सएप पर अपना नाम, आयु, एक पासपोर्ट आकार का नवीन फोटो, घर का पता, मोबाइल, व्हाट्सएप का नम्बर और कविता की भाषा/बोली लिखकर भेजें। आपको व्हाट्सएप पर ही पूरी जानकारी मिल जाएगी और पंजीकरण क्रमांक मिल जाएगा। भाग लेने हेतु उपलब्ध व्हाट्स एप नम्बर हैं- बीरा राजबाबू ‘प्रखर’ 9424298778 अमितेश तिवारी 9407994210, अतुलेश तिवारी 9399451331,पुरुषोत्तम चंद्राकर 7489426344, गायत्री ठाकुर 9496306304
इस काव्य प्रतियोगिता की प्रांत स्तरीय प्रतियोगिता 15 अक्टूबर तक सम्पन्न होगी। इसमें पहुँचे प्रतियोगी वही कविता बोलेंगे जिसके आधार पर वे चुने गए हैं। राष्ट्रीय प्रतियोगिता में भी वही कविता रहेगी। प्रान्त के सर्वोत्तम 6 प्रतियोगी राष्ट्रीय प्रतियोगिता में भाग लेंगे।राष्ट्रीय प्रतियोगिता दो चरणों में होगी । पहले क्षेत्र के अनुसार और अंतिम प्रतियोगिता दिल्ली में और
अंतिम प्रतियोगिता 15 नवंबर, 2021 को प्रत्यक्ष होगी।इस प्रतियोगिता में बीजापुर जिले के विजेताओं में प्रथम को ₹1500, द्वितीय को ₹1000 और तृतीय को ₹500के पुरस्कार दिए जाएंगे।इनके अतिरिक्त जिला स्तर पर वरीयता क्रम में अगले 10प्रतिभागियों को सांत्वना पुरस्कार दिया जाएगा। प्रांतस्तरीय प्रतियोगिता के विजेताओं में प्रथम को 5100, द्वितीय को 3100 तथा तृतीय को ₹2100 के पुरस्कार दिए जाएँगे। राष्ट्रीय प्रतियोगिता के प्रथम विजेता को ₹31000, द्वितीय को ₹21000 और तृतीय को ₹11000 का पुरस्कार दिया जाएगा । सभी स्तरों के विजेताओं तथा प्रतिभागियों को प्रमाणपत्र दिया जाएगा। प्रतियोगिता में भारतीय संविधान द्वारा मान्य 22 भाषाओं के प्रथम स्थान पर आने वाले विजेताओं को भी पुरस्कृत किया जाएगा। प्रत्येक भाषा के प्रथम विजेता को 3100 रुपए की राशि प्रदान की जाएगी। इसके लिए अलग से कोई प्रतियोगिता नहीं होगी। प्रतियोगिता का निर्णय निर्णायक मंडल करेगा जो अविवादास्पद माना जाएगा। राष्ट्रीय प्रतियोगिता के प्रतिभागियों को प्रतियोगिता स्थल तक आने जाने के लिए साधारण श्रेणी की बस यात्रा या रेल यात्रा का न्यूनतम वास्तविक किराया दिया जाएगा । जिला तथा प्रान्तस्तरीय प्रतियोगिता के लिए आवागमन का व्यय प्रतियोगी स्वयं करेगा।प्रतियोगिता का पंजीकरण निःशुल्क है।इस प्रतियोगिता में राष्ट्रीय कवि संगम का कोई पदाधिकारी इस प्रतियोगिता में भाग नहीं ले सकेगा। प्रतिभाओं को अवसर देने के लिए यह मंच है जिसमे अब तक जिले के मुख्य मार्ग में बसे ग्रामों के अलावा अंदरूनी क्षेत्रों से भी 22 प्रतिभागियों ने पंजीयन कराया है । राष्ट्रीय कवि संगम बीजापुर जिला इकाई के द्वारा लोगों से अधिक से अधिक संख्या में भाग लेने की अपील की गई है।

Related posts

गीदम व बारसूर क्षेत्र में अभी तक नहीं हुई परिक्षेत्र अधिकारी की पदस्थापना विगत 17 दिसंबर से दोनों परिक्षेत्रों के परिक्षेत्र अधिकारी के पद रिक्त, दे रहा कई आशंकाओं को जन्म

jia

कार्यालयीन समय मे अनुपस्थित कर्मचारियों के खिलाफ करे कार्यवाही

jia

किरंदुल वार्ड क्रमांक 17 के पार्षद के द्वारा अपने वार्डो में सुरक्षा किट वितरण किया जा रहा है…

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!