September 17, 2021
Uncategorized

रमन सिंह की भाषा पूरेंदश्वरी की थूक की उपज या गुंडे-मवालियों की भाषा
शांति मार्च में अशांति फैलाने वाला ईट से ईट बजाने वाला बयान

Spread the love

जिया न्यूज़:-जगदलपुर,

जगदलपुर:-धर्मांतरण के मुद्दे पर भाजपा द्वारा निकाले गए शांति मार्च के बीच पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह द्वारा जो भाषा का प्रयोग किया उसकी छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी आईटी सेल व सोशल मीडिया ने निंदा की है। शनिवार को भाजपा की धर्मांतरण के विरोध में निकाली रैली में पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह द्वारा जो भाषा का प्रयोग किया वह किसी गुंडों- मदारियों की भाषा प्रतित होती है या बस्तर संभाग मुख्यालय के चिंतन शिविर में निकले प्रभारी पुरेंदश्वरी के थूक की उपज है। छत्तीसगढ़ की संस्कृति में ऐसी भाषा का कोई स्थान नहीं है।उक्त बातें छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी आईटी सेल व सोशल मीडिया प्रदेश महासचिव व मीडिया प्रभारी योगेश पानीग्राही ने कही।
आईटी सेल प्रदेश महासचिव व मीडिया प्रभारी पानीग्राही ने कहा कि धर्मांतरण एक ज्वलंत मुद्दा है और चिंतन शिविर में भाजपाईयों ने काम की कम और आरएसएस प्रायोजित मुद्दों पर मंथन किया जिसके निष्कर्ष पर सिर्फ और सिर्फ भाजपाईयों में वर्ग भेद फैलाने के प्रोत्साहित करने का काम मालूम पड़ता है। छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह की राजभवन तक शांति मार्च के दौरान सरकार की ईंट से ईंट बजा देने संबंधी बयान हताशा और मवालियों की भाषा प्रतित होती है।

Related posts

युवा पत्रकार लक्ष्मण पिल्लई के प्रयास से मिला आसना के ग्रामीणों को राशन सामग्री… ब.अ.मुक्ति मोर्चा ने बढ़ाया मदद का हाथ…

jia

Chhttisgarh

jia

बस्तर के नेता नवनीत चांद व भरत कश्यप पर समाज सेवा के बाद राज्य सरकार का FIR दर्ज करना निंदनीय घटना है– सर्व आदिवासी समाज मिडिया प्रभारी गुंडाधूर मंगल

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!