January 26, 2022
Uncategorized

रमन सिंह की भाषा पूरेंदश्वरी की थूक की उपज या गुंडे-मवालियों की भाषा
शांति मार्च में अशांति फैलाने वाला ईट से ईट बजाने वाला बयान

Spread the love

जिया न्यूज़:-जगदलपुर,

जगदलपुर:-धर्मांतरण के मुद्दे पर भाजपा द्वारा निकाले गए शांति मार्च के बीच पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह द्वारा जो भाषा का प्रयोग किया उसकी छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी आईटी सेल व सोशल मीडिया ने निंदा की है। शनिवार को भाजपा की धर्मांतरण के विरोध में निकाली रैली में पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह द्वारा जो भाषा का प्रयोग किया वह किसी गुंडों- मदारियों की भाषा प्रतित होती है या बस्तर संभाग मुख्यालय के चिंतन शिविर में निकले प्रभारी पुरेंदश्वरी के थूक की उपज है। छत्तीसगढ़ की संस्कृति में ऐसी भाषा का कोई स्थान नहीं है।उक्त बातें छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी आईटी सेल व सोशल मीडिया प्रदेश महासचिव व मीडिया प्रभारी योगेश पानीग्राही ने कही।
आईटी सेल प्रदेश महासचिव व मीडिया प्रभारी पानीग्राही ने कहा कि धर्मांतरण एक ज्वलंत मुद्दा है और चिंतन शिविर में भाजपाईयों ने काम की कम और आरएसएस प्रायोजित मुद्दों पर मंथन किया जिसके निष्कर्ष पर सिर्फ और सिर्फ भाजपाईयों में वर्ग भेद फैलाने के प्रोत्साहित करने का काम मालूम पड़ता है। छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह की राजभवन तक शांति मार्च के दौरान सरकार की ईंट से ईंट बजा देने संबंधी बयान हताशा और मवालियों की भाषा प्रतित होती है।

Related posts

करोड़ों का अवैध मुरुम उत्खनन,भारतीय मजदूर संघ ने की कार्यवाही की मांग

jia

दिव्यांग हेमंत को मिली नई ट्रायसायकल,साथ मे हेलमेट भी

jia

राष्ट्रीय नवप्रवर्तन प्रतिष्ठान और वन जलवायु परिवर्तन विभाग द्वारा औषधीय पारंपरिक ज्ञान की खोज एवं प्रलेखन पर कार्यशला आयोजित हुआ।

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!