November 30, 2022
Uncategorized

बेसिक स्कूल मैदान में हुआ गणतंत्र दिवस समारोह का अंतिम रिहर्सल

Spread the love

जिया न्यूज़:-अरुण सोनी-बेमेतरा,

बेमेतरा:-शनिवार की सुबह 9 बजे से गणतंत्र दिवस की तैयारी का अंतिम रिहर्सल स्थानीय बेसिक स्कूल मैदान में किया गया। इसमें बतौर अपर कलेक्टर ने परेड की सलामी ली। साथ में पुलिस अधीक्षक दिव्यांग पटेल,एएसपी विमल कुमार बैस, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व दुर्गेश वर्मा, मुख्य नगर पालिका अधिकारी होरी सिंह ठाकुर भी उपस्थित थे। अपर कलेक्टर संजय कुमार दीवान ने मुख्य समारोह स्थल पर की गई तैयारी पंडाल, बेरीकेट्स, पेयजल, यातायात, बैठक आदि व्यवस्थाओं का जायजा लिया।

रिहर्सल में प्लाटून ने परेड में भाग लिया। गणतंत्र दिवस समारोह में विभागों द्वारा चलित झांकी के जरिए अपने उल्लेखनीय कार्यों का प्रदर्शन किया जाएगा। मुख्य समारोह के गरिमा अनुरूप तैयारी करने अपर कलेक्टर ने मौके पर उपस्थित अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए। इस अवसर पर विभागीय अधिकारी भी समारोह स्थल पर मौजूद थे।कोरोना की वैक्सीन आने के बाद अब गणतंत्र दिवस पर आजादी का जश्न धूमधाम से मनाया जाएगा। जिले में गणतंत्र दिवस समारोह गाइड लाइन के साथ पूरे हर्षोल्लास के साथ मनाया जाएगा। गणतंत्र दिवस समारोह की तैयारी होने लगी हैं। आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि द्वारा ध्वजारोहण कर परेड की सलामी ली जाएगी। साथ ही मुख्यमंत्री के गणतंत्र दिवस संदेश का वाचन किया जाएगा। गणतंत्र दिवस समारोह में इस वर्ष कोरोना संक्रमण से सुरक्षा का संदेश झाकियों में रहेगा।
नहीं होंगे सांस्कृतिक कार्यक्रम

कोरोना संक्रमण की वजह से ऐसा पहली बार होगा जब परेड में एनसीसी, एनएसएस, स्काउट गाइड, शौर्य दल आदि भाग नहीं लेंगे। शिक्षण संस्थाओं में ध्वजारोहण, राष्ट्रगान का आयोजित किया जाएगा व कार्यक्रम में बच्चों को शामिल नहीं किए जाएंगे। जिला पंचायत कार्यालय में प्रशासनिक समिति प्रधान द्वारा औपचारिक रूप से राष्ट्रीय ध्वज फहराया जाएगा व राष्ट्रीय गान होगा।स्थानीय बेसिक स्कूल मैदान में कोविड गाइडलाइन के अनुसार आयोजित किया जाएगा।

Related posts

अब दिखा गाड़ी में स्टालिश नंबर तो कटेगा चालान
दुपहिया वाहन में नही लगेगा दूसरा लाइट , कंपनी लाइट को ही लगाना है

jia

फिल्मी तरीके से की जा रही दो करोड़ कीअवैध चंदन लकड़ी के तस्कर चढ़े पुलिस के हत्थे, भेजा जेल

jia

लौह नगरी किरंदुल पटवारी पारा के निवासी आज भी शुद्ध पानी पीने के लिए भटक रहे हैं. झरने व झील के पानी से अपनी प्यास बुझा रहे हैं.

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!