January 20, 2022
Uncategorized

जनता को छलने वाली चिट फंड कंपनी के फरार डायरेक्टरो पर लगातार बिलासपुर पुलिस की कार्यवाही जारी ।

Spread the love

जिया न्यूज:-बिलासपुर,

करोड़ों रुपए गबन करने वाले चिट फण्ड कंपनी निर्मल इंफ़्रा होम के 6 आरोपी बिलासपुर पुलिस की हिरासत में ।

आरोपी कंपनी के विरुद्ध जिले में 1 तथा पूरे राज्य में 12 अपराध है दर्ज ।

जिले में 7 करोड़ सहित पूरे प्रदेश में 13 करोड़ से अधिक के गबन का है मामला ।

बिलासपुर:-छ०ग० शासन की मुख्य एजेंडा चिटफण्ड के प्रकरणों पर फरार आरोपियों की गिरफ्तारी करने व निवेशकों की धन वापसी की कार्यवाही कराया जाना है, जिसमें निर्मल इन्फाहोम कार्पोरेशन लिमिटेड विरूद्ध जिला एवं राज्य के दर्ज प्रकरणों में फरार चल रहे डायरेक्टर्स आरोपियों को गिरफ्तार करने में बिलासपुर पुलिस को कामयाबी हासिल हुई है।

  1. अभिषेक सिंह चौहान पिता आनंद चौहान उम्र 37 वर्ष सा. गुलमोहर कॉलोनी अरेहारील जिला साजापुर म० प्र०.
  2. हरिश शर्मा पिता अशोक शर्मा उम्र 33 वर्ष सा0 96 आवास कालोनी थाना कालीपीपल जिला शाजापुर म.प्र.,
    03.निरंजन सक्सेना पिता अशोक चन्द्राकर उम्र 43 वर्ष सा० शाजापुर म.प्र.
  3. लखन सोनी पिता जगदीश सोनी उम्र 35 वर्ष सा0 59 कर्मचारी कॉलोनी कालीपीपल मण्डी थाना कालीपीपल जिला शाजापुर म.प्र.
  4. प्रबल प्रताप सिंह पिता स्व.बदन प्रताप उम्र 38 साल साकिन भाई कोठी थाना माधवगंज जिला ग्वालियर म.प्र.
  5. आशीष चौहान पिता आनंद चौहान उम्र 36 पता आवास कालोनी पीपला भण्डी जिला साजापुर म०प्र०
    जिले इकाई के थाना कोटा में अप.क. 27/2018 धारा 420, 34 भादवि एवं छ0ग0 के निक्षेपको के हितो का सरक्षण अधिनियम 2015 की धारा 10 व धन परिचालन अधिनियम 1978 की धारा 4.5.6 दर्ज किया गया है, जिसमें लगभग 07 करोड़ रूपये की ठगी की गई है।
    निर्मल इन्फ्राहोम कार्पोरेशन लिमिटेड कंपनी के विरूद्ध जिले में 01 अपराध व राज्य में कुल 12 अपराध दर्ज है जिसमें ठगी गई रकम 13,79,93,955 रूपये लगभग है, उक्त आरोपियों डायरेक्टरों के विरूद्ध जिला बिलासपुर पुलिस में 01 अपराध, कांकेर 01, रायगढ़ 01, सरगुजा 04, बलौदाबाजार 01, दंतेवाड़ा
    01, बेमेतरा 01, रायपुर 02, अपराध दर्ज किया गया है।
    निर्मल इन्फ्राहोम कार्पोरेशन लिमिटेड कंपनी के आरोपियों के द्वारा जिला बिलासपुर के लोगो से पैसा दोगुना तीन गुना होने के लालच देकर पैसा जमा कराया व कंपनी बंद कर फरार हो गया। कंपनी के विरूद्ध जिले में लगभग 2972 आवेदन प्राप्त हुआ है।
    प्रकरण में आरोपी एवं कंपनी के विरूद्ध संपत्ति चिन्हित कर ली गई है जिसकी कुर्की हेतु अग्रिम कार्यवाही किया जावेगा। जिसमें कंपनी की संपत्ति हरीत शर्मा के नाम से खरोरा तहसील तिल्दा रायपुर में 1450 वर्गफुट जमीन की चिन्हित किया गया है, एवं कंपनी के नाम से म0प्र0, बालाघाट, खण्डवा, मथुरा, राजगढ़, देवास, भोपाल, भींड, व अहमदनगर महाराष्ट्र में संपत्ति ज्ञात हुई है, जिसकी नियमानुसार कार्यवाही की जावेगी।
    प्रकरण का संक्षिप्त विवरण:- विवरण इस प्रकार है कि पुलिस उप महानिरीक्षक एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दीपक कुमार झा के निर्देशनुसार एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रोहित कुमार झा , अनुविभागीय अधिकारी पुलिस आशीष अरोरा के पर्यवेक्षण में इस इकाई के थाना कोटा में अप.क. 27 / 2018 धारा 420, 34 भादवि एवं छ0ग0 के निक्षेपको के हितो का सरक्षण अधिनियम 2015 की धारा 10 व धन परिचालन अधिनियम 1978 की धारा 4.5.6 दर्ज किया गया है, जिसमें लगभग 07 करोड़ रूपये की ठगी की गई है। प्रकरण में 06 आरोपियों की पतासाजी किया गया, जिसमें उक्त 06 आरोपी भुवनेश्वर जेल उड़िसा में निरूद्ध होने की जानकारी होने पर माननीय न्यायालय से प्रोडक्शन वारण्ट जारी कराकर प्रोडक्शन वारण्ट भुवनेश्वर जेल ओडिसा से तामील कराया गया, एवं उक्त आरोपियों को नियमानुसार नियत तिथि 04.12.2021 को न्यायालय पेश किया, एवं अन्य कार्यवाही विधिवत की जा रही है
    उक्त कार्यवाही में थाना प्रभारी कोटा दिनेश चन्द्रा, उप निरीक्षक अशोक द्विवेदी, स उ नि हेमसागर पटेल, आर. 1165 शैलेंद्र दिनकर की विशेष भूमिका

Related posts

बेरोजगारी समस्या को ले कर आमरण अनशन पर बैठी बस्तर की बेटी को मिला बस्तर के प्रबुध्दजीवियो का समर्थन बस्तर अधिकार सँयुक्त मुक्ति मोर्चा के संयोजक नवनीत चाँद पहुँचे अपने समर्थको के साथ आमरण अनशन स्थल

jia

Chhttisgarh

jia

Chhttisgarh

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!