October 21, 2021
Uncategorized

मेकाज में दवाई का टोटा, परिजनों का गुस्सा डॉक्टरों पर
दवाई की कमी के चलते परिजनों को जाना पड़ रहा जगदलपुर तक

Spread the love

जिया न्यूज़:-जगदलपुर,

जगदलपुर। संभाग के सबसे बड़े मेडिकल कॉलेज में विगत कई महीनों से दवाइयों का टोटा बना हुआ है, जिसके कारण मरीजो को दवाई लेने के लिए जगदलपुर तक दौड़ लगाना पड़ता है, ऐसे में सही समय पर अगर मरीजो के परिजनों को सही समय पर दवाई नही मिलती है तो उनका पूरा गुस्सा डॉक्टरों पर निकलता है, जिसके कारण मामला मारपीट तक आ जाता है।
मामले के बारे में कुछ मरीज के परिजनों ने बताया कि हमेशा देखने को मिलता है कि जितने भी दवाई डॉक्टरों के द्वारा लिखा जाता है उसमें से एक या दो ही दवाई मरीजो को मिलती है, जितनी भी महंगी दवाई होती है उसे खरीदने के लिये जगदलपुर तक ही जाना पड़ता है, दिन में तो कैसे भी करके परिजन दवाई की व्यवस्था कर लेते है, लेकिन रात के समय गंभीर हालत के मरीजो को जब दवाई नही मिलता है तो उनका पूरा गुस्सा डॉक्टरों के ऊपर आता है, जिसके बाद पहले विवाद गाली गलौच से शुरू होता है और मामला मारपीट के बाद थाने तक आ जाता है, देखा जाए तो अस्पताल में रोजाना उपयोग होने वाले सामान जैसे इंजेक्शन, आईवी, ग्लब्स, मास्क, जेनेरिक दवाइयां, सीरीज आदि की कमी रोजाना देखने को मिलता है, इन सबके बाद भी यहां बने फार्मासिस्ट रूम में हमेशा दवाई नही रहने की बात सामने आती है, मेकाज के अंदर व बाहर में हमेशा दवाइयो की कमी को देखा गया है।
इस मामले के संबंध में मेकाज अधीक्षक डॉ के एल आजाद का कहना है कि 90 प्रतिशत दवाई सीजीएमएससी से मंगवाया जाता है, जो हमे पूरी तरह से मिल नही पा रहा है, रहा 10 प्रतिशत जो लोकल दर से मंगवाया जा रहा है, जिससे कि मरीजो को दवाई की पूर्ति की जा रही है, अगर दवाई आना शुरू हो जाएगा तो ये समस्या भी खत्म हो जाएगी।

Related posts

स्वास्थ्य योजनाओ का साइड डाउन,
बस्तर कैसे रहे आयुष्मान?-मुक्तिमोर्चा

jia

Chhttisgarh

jia

जनपद प्राथमिक शाला बीजापुर में हुआ शाला प्रबंधन समिति का गठन

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!