September 26, 2021
Uncategorized

प्रदेश के 52000 बस कर्मचारीयों की आर्थिक एवं दैनिक स्थिति बद से बदतर होने पर भी शासन एवं प्रशासन द्वारा कोई सहयोग नहीं ।

Spread the love

जिया न्यूज़:-इमरान अहमद-बालोद,

बालोद:-उक्त विषय अंतर्गत हम बस कर्मचारी जो अलग-अलग निजी बस कंपनियों में काम किया करते थे 22 3 2020 से कोरोना महामारी के कारण लॉकडाउन लगाया गया था जिसमें हर वर्ग के लोगों के लिए राज्य सरकार द्वारा सहयोग किया गया था परंतु हम बस कर्मचारियों की सुध नहीं ली गई थी ना बस संचालकों द्वारा नाही शासन द्वारा हमारी आर्थिक स्थिति को देखते हुए हमारे प्रदेश अध्यक्ष श्री जितेंद्र शुक्ला जी एवं प्रदेश के बस कर्मचारियों द्वारा 12 11 2020 को बूढ़ा तालाब पर आमरण अनशन एवं भूख हड़ताल किया गया था दिनांक 25 11 2020 को शासन एवं प्रशासन के आला अधिकारियों द्वारा अपने राजपत्र का हवाला देते हुए हमारा अमरण अनशन यह कहते हुए स्थगित किया गया था कि बस

संचालकों द्वारा आप लोगों को 3 माह का वेतन स्वरूप सहायता प्रदान किया जाएगा परंतु आज दिनांक तक हमें किसी भी प्रकार की कोई राशि एवं सहायता नहीं की गई है फिर से लॉकडाउन लगने से हमारे एवं हमारे परिवार की आर्थिक स्थिति बद से बदतर हो चली है हमें हमारे परिवार का भरण पोषण करने में बड़ी परेशानी हो रही है अतः माननीय महोदय से विनम्र निवेदन है कि हमारी आर्थिक एवं दैनिक स्थिति को देखते हमारी सहायता करने या बस संचालकों से करवाने का कष्ट करें ।

Related posts

हिरमागोंडा के जंगलों में नक्सलियों से पुलिस की हुई मुठभेड़, हथियार व दैनिक उपयोग की सामग्री बरामद

jia

Chhttisgarh

jia

सीपीआई के प्रदर्शन चढ़ने लगा परवान
ग्रामीणों में सरकार के खिलाफ आक्रोश

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!