January 26, 2022
Uncategorized

विक्रम शाह मंडावी ने 1000 हेक्टेयर से अधिक वन भूमि के पट्टे छः पंचायत के 442 लोगों को बाँटा
ओबीसी वर्ग के 76 लोगों को पहली बार मिला वन अधिकार पट्टा

Spread the love

जिया न्यूज़:-राजेश जैन-बीजापुर,

बीजापुर:-बुधवार को बस्तर क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष एवं बीजापुर के विधायक विक्रम शाह मंडावी ने माटवाडा क्षेत्र के छः ग्राम पंचायतों में 442 वन अधिकार पट्टों का वितरण किया, जिसमें ग्राम पंचायत माटवाडा के 56, ग्राम पंचायत कोंड्रोजी के 273, ग्राम पंचायत कोतरापाल के 24, ग्राम पंचायत टिंडोड़ी के 71, ग्राम पंचायत जांगला के 17 एवं ग्राम पंचायत बड़े तूँगाली के 01 शामिल है। इस तरह 442 लोगों को लगभग 1000 हेक्टेयर से अधिक भूमि का वन अधिकार पट्टा वितरण किया गया है पहली बार ऐसा हुआ कि प्रदेश सरकार ने वर्षों से अभयारण्य क्षेत्रों में क़ाबिज़ आदिवासियों ग़ैरआदिवासियों को वन अधिकार पट्टा दे रही है।
इस दौरान कार्यक्रम में उपस्थित लोगों को सम्बोधित करते हुए विक्रम शाह मंडावी ने प्रदेश के मुखिया भूपेश बघेल का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि “प्रदेश के मुखिया भूपेश बघेल की सोच है कि हर व्यक्ति के साथ साथ हर वर्ग के लोगों को पट्टा मिले यही कारण है कि अब माटवाडा जैसे आदिवासी क्षेत्रों में वर्षों से रह रहे ओबीसी वर्ग के 76 लोगों को भी वन अधिकार पट्टा दिया जा रहा है ऐसा पहली बार हो रहा है।”
कार्यक्रम का सम्बोधन ज़िला पंचायत सदस्य श्रीमती नीना रावतिया उद्दे एवं ज़िला कांग्रेस कमेटी बीजापुर के अध्यक्ष लालू राठौर ने भी किया।
इस दौरान ज़िला पंचायत सदस्य श्रीमती संतकुमारी मंडावी, जनपद अध्यक्ष भैरमगढ़ दशरथ कुंजाम, जनपद उपाध्यक्ष भैरमगढ़ सहदेव नेगी, सांसद प्रतिनिधि सीता राम माँझी, ज़िला कांग्रेस कमेटी बीजापुर के प्रवक्ता ज्योति कुमार, ब्लॉक कांग्रेस कमेटी भैरमगढ़ के अध्यक्ष लच्छुराम मौर्य, जनपद सदस्य भावेश कोरसा, विधायक प्रतिनिधि सुखदेव नाग, जनपद सदस्य सुदोराम मंडावी, सहायक प्रवक्ता ज़िला कांग्रेस कमेटी बीजापुर प्रवीण उद्दे, एवं समस्त ग्राम पंचायत के सरपंच, पंच व बड़ी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे।

Related posts

एटीएम में राशि ना डाल अपने शौक पूरा करता रहा कर्मचारी
करोड़ो रूपये के हेराफेरी की भनक लगने के बाद पुलिस में हुआ मामला दर्ज

jia

केशकाल एडवेंचर फैस्टिवल का हुआ आगाज्
देश के अनेक राज्यों से पहुंचे पर्यटक बने साक्षी

jia

कोरोना कोविड-19 से लड़ने में प्रशासन गम्भीर नहीं,अधिकारी कर रहे घोर लापरवाही बस्तर के सुदूर क्षेत्रों में कवारेन्टाइन सेंटरों में दिया जा रहा घ टिया भोजन,ग्रामीण क्षेत्रों में मास्क और सेनेटाइजर की व्यवस्था नहीं।कोरोना से लड़ने में सरकार नाकाम-कोमल हुपेण्डी, कवारेन्टाइन सेंटर बन चुके हैं भ्रष्टाचार के अड्डे,लचर व्यवस्था से ग्रामीण हो रहे परेशान- समीर खान,

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!