September 17, 2021
Uncategorized

आवापल्ली में नवीन महाविद्यालय की सौगात मिलने से उसूर क्षेत्र के ग्रामीणों में हर्ष
जनप्रतिनिधियो ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, मंत्री कवासी लखमा, उमेश पटेल व विधायक विक्रम शाह मंडावी का जताया आभार

Spread the love

जिया न्यूज़:-राजेश जैन-बिजापुर,

बीजापुर:-उसूर क्षेत्र के ग्रामीणों एवं जनप्रतिनिधियों की वर्षो पुरानी मांग बुधवार को तब पूरी हुई जब प्रदेश की भूपेश सरकार ने उच्च शिक्षा को दूरस्त क्षेत्रों के आम नागरिकों तक आसानी से पहुँचाने की मक़सद से उसूर/आवापल्ली जैसे दूरस्त और पिछड़े क्षेत्र में महाविद्यालय खोलने की स्वीकृति दे दी। उसूर जैसे दूरस्त विकास खण्डों में महाविद्यालय खुलने से उसूर क्षेत्र के ग्रामीणों में हर्ष है।

ज़िला पंचायत उपाध्यक्ष कमलेश कारम ने प्रदेश के मुखिया भूपेश बघेल, आबकारी मंत्री कवासी लखमा, उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल एवं बस्तर क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष एवं बीजापुर के विधायक विक्रम शाह मंडावी का उसूर क्षेत्र की जनता की ओर से आभार व्यक्त करते हुए कहा कि “ उच्च शिक्षा को लेकर पिछले एक दशक से भी अधिक समय से ग्रामीण एवं युवा लगातार माँग कर रहे थे जिसे विक्रम शाह मंडावी ने गम्भीरता से लेते महाविद्यालय खोलने का अथक प्रयास किया जिसके फ़लस्वरू प्रदेश की भूपेश सरकार ने एतिहासिक निर्णय लेते हुए दूरस्त ग्रामीण क्षेत्र में महाविद्यालय खोल कर एक बड़ी सौग़ात उसूर विकास खंड को दी है। आवापल्ली में महाविद्यालय के खुलने से इसका लाभ ग़रीबों और आदिवासियों को सीधे मिलेगा जो पहले आर्थिक अभाव के चलते उच्च शिक्षा की पढ़ाई नहीं कर पा रहे थे आवापल्ली में नवीन महाविद्यालय खुलने से उसूर के अंदरूनी क्षेत्र के प्रतिभावान युवाओं को आगे आने का मौक़ा निश्चित रूप से मिलेगा।”

उसूर ब्लॉक के विधायक प्रतिनिधि मनोज अवलम ने प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, आबकारी मंत्री कवासी लखमा उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल व क्षेत्रीय विधायक विक्रम शाह मण्डावी का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि पिछले एक दशक से भी अधिक समय से उच्च शिक्षा को लेकर ग्रामीण लगातार माँग कर रहे थे लोगों की मंशा अनुसार विधायक विक्रम शाह मंडावी ने आवापल्ली में नवीन महाविद्यालय खोलने की माँग की गम्भीरता को समझते हुए इस पर अथक प्रयास किया जिसका परिणाम आवापल्ली में नवीन महाविद्यालय के रूप में हमारे समक्ष है। नवीन महाविद्यालय के खुलने से उसूर क्षेत्र के गरीब और आदिवासी युवकों को अब आवापल्ली में ही नियमित रूप से उच्च शिक्षा मिलेगी जो पहले भारी भरकम राशि खर्च कर अन्य शहरों में पढ़ाई करने जाते थे।”

Related posts

Chhttisgarh

jia

कोविड-19 के वर्तमान बढ़ते प्रसार को देखते हुए शासन ने राज्य के समस्त आंगनबाड़ी केंद्रों तथा मिनी आंगनबाड़ी केंद्रों के संचालन को तत्काल प्रभाव से आगामी आदेश तक के लिए किया बंद

jia

Chhttisgarh

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!