September 17, 2021
Uncategorized

संसद में भी सुरक्षित नही महिलाएं,
केंद्र की तानाशाही सरकार ने सदन की गरिमा को तार-तार कर दिया-नीना रावतिया उद्दे

Spread the love

जिया न्यूज़:-बीजापुर,

बीजापुर:-राज्यसभा संसद में महिला सांसदों के साथ धक्का-मुक्की की घटना को अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सदस्य व बस्तर विकास प्राधिकरण की सदस्य श्रीमती नीना रावतिया उद्दे ने बहुत ही निंदनीय एवं शर्मनाक घटना बताते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी के महिला विरोधी चरित्र का यह जीता जागता सबूत है जिसे देश की 130 करोड़ की जनता ने देखा है। आज देश की राजधानी दिल्ली में नारी शक्ति का अपमान हुआ महिला सांसदों के साथ ऐसा अपमान संसद में हो सकता है तो सामान्य महिलाओं के साथ कितना अत्याचार होता होगा राज्यसभा सांसद श्रीमती फूलोदेवी नेताम को संसद में मार्शल द्वारा धक्का दिया गया जिससे वह नीचे गिर गई हाथ और पैर में मोच आ गई भाजपा का यही असली चेहरा है। महिलाओं का अपमान करना इस घटना को इतिहास कभी भूल नहीं पाएगा। भारतीय जनता पार्टी ने लोकतंत्र की हत्या कर दी है लोकतंत्र में जनता को प्रभु की मूरत माना जाता है और संसद को लोकतंत्र का मंदिर लेकिन जब लोकतंत्र के मंदिर में पुजारी की जगह पाखंडी बैठ जाएं और जनता जनार्दन के ऊपर जुल्म करें। यदि जनता के हित की बात करो तो देशद्रोही का नाम दिया जाता है। अखिल भारतीय काँग्रेस कमेटी की सदस्य श्रीमती नीना रावतीया उद्दे ने कहा कि देश मे लोकतंत्र नही बल्कि तानाशाही चल रही है। सरकार नए नए तरीकों से तानाशाही रुख ऐसी योजनाओ को जनता पर थोप रही है जिससे लोगो को कोई फायदा नही होने वाला है।

Related posts

मेकाज के कुछ वारियर्स हुए कोरोना संक्रमित
वार्ड में साथ में करते थे काम , आरटीपीसीआर में आई रिपोर्ट

jia

पड़ोसियों ने क्या देखा कि उड़ गए उनके होश
आरक्षक की पत्नी ने खुद को क्यों लगाई आग
पति पत्नी के बीच हुए विवाद में आग लगाने से महिला की मौत

jia

रिजल्ट में गड़बड़ी और मनमानी को लेकर NSUI पहुँचे कुलपति से मिलने

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!