January 20, 2022
Uncategorized

निशुल्क सेवा भाव से युवा कर रहे मवेशियों की सेवा
गौ शाला में अभी भी है 110 से अधिक मवेशी
900 से ज्यादा मवेशी का कर चुके है उपचार

Spread the love

जिया न्यूज़:-दंतेवाड़ा-जगदलपुर,

जगदलपुर:-अक्सर इस बात को लोगो के द्वारा कहा जाता है कि मानव सेवा ही प्रभु सेवा है, लेकिन जगदलपुर के कुछ युवाओं ने निशुल्क सेवा भाव से कुरन्दी में खुद का एक हैप्पी कामधेनु गौ शाला खोलकर गौ माता की सेवा कर रहे है, इसके लिए जो भी खर्च आ रहा है, वो इनके टीम के द्वारा किया जा रहा है। इसके अलावा अगर किसी मवेशी सड़क हादसे में घायल हो जाती है, और उसकी सूचना मिलने पर खुद ही अपनी एम्बुलेंस के साथ ही डॉक्टरों की टीम के द्वारा उपचार कराया भी जाता है। बस्तर संभाग का एकमात्र ऐसा गौ शाला है, जहाँ बिना किसी शासकीय आर्थिक सहयोग के इस टीम के द्वारा मवेशियों का इलाज किया जा रहा है।

जानकारी देते हुए दीपक पनपालिया ने बताया कि अक्सर लावारिस मवेशियों को देखने से बड़ा दुख होता था, ऐसे में इनके कुछ दोस्तों ने मिलकर गौ सेवा करने की इच्छा जताई, जिसके बाद आड़ावाल में एक गौ शाला का निमार्ण किया गया, जहाँ पर लावारिश मवेशियों की देखरेख से लेकर उनके खाने तक की व्यवस्था इनके टीम के द्वारा किये जाने लगा। वर्ष 2014 से लेकर अब तक इस टीम के द्वारा 900 से अधिक बीमार, घायल व सड़को में लावारिस मवेशियों को अपने गौ शाला लाकर देखभाल किया जा रहा है,
गौ सेवा का भाव इन युवाओं पर इस कदर छाया हुआ है कि इनके गौशाला में अभी करीब 110 के लगभग मवेशी का लालन पालन किया जा रहा है, इन सबके अलावा ग्रुप के सदस्यों ने घायल, बीमार गाय की जानकारी देने के लिए फोन नम्बर 9009171234, व 9009141234 के साथ ही अपना एक वॉट्सएप ग्रुप भी बना रखे है, जिसमे तत्काल इन मवेशियों की जानकारी भेजा जा सकता है।
सदस्यों का कहना है कि बड़ा ही सुकून मिलता है जब हमारे इस गौ सेवा में काम करने के बाद बीमार व घायल मवेशी ठीक हो जाते है, और लोग हमारे निशुल्क सेवा को देखकर आगे बढ़ने का हौसला बढ़ाया जाता है।

Related posts

जिया न्यूज़ की खबर का असर-आबकारी विभाग ने अवैध शराब पर की कार्यवाही

jia

Chhttisgarh

jia

Chhttisgarh

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!